ये चीनी ऐप कर रहे है आपकी जासूसी

इस टेक्नोलोय के दुनिया में कई ऐसे है जो आपके जिंदगी का अहम् हिस्सा बन चुके है लेकिन चीनी ऐप के वजह से जाने अनजाने में भारतीय सुरक्षा को खतरा बहुत बढ़ गया है।

भारतीय सुरक्षा एजेंसियों ने टाइम पास करने वाले चीनी ऐप्स जैसे की टिक टोक, हेलो ऐप, यूसी ब्रॉउज़र और ज़ूम को इसके लिए खतरनाक बताया है। भारतीय सुरक्षा एजेन्सियों ने 50 से जयादा ऐसे चीनी ऐप्स की पहचान की है जो भारत की आंतरिक सुरक्षा के लिए बेहद खतरनाक है। सुरक्षा एजेंसियोँ के रिपोर्ट के मुताबिक इन ऐप्स के जाइये भारत की अहम् जानकारी भारत के बाहर भेजा जा रहा है।

जिन मोबाइल ऐप्स को देश के लिए खतरा मन गया है उनमे टिक टोक, हेलो, यूसी ब्राउज़र, ज़ूम जिसे ऐप्स शामिल है। इसके अलावा महिलाओ के लिए शॉपिंग ऐप्स जिसे की शिएन और क्सिओमी को भी सुरक्षा के लिहाज़ से बेहद खतरनाक बताया गया है। मामले से जुड़े एक जानकर का कहना है टिक टोक, हेलो, यूसी ब्राउज़र, और ज़ूम को आप मनोरंजन के लिए इस्तेमाल करते है। लेकिन ये ऐप्स चुपके से आपके लोकेशन और आपके द्वारा इस्तेमाल होने वाली ऐप्स और जानकारियां चुपके से अपने पास स्टोर करते है। ऐसे में जितने भी भरतीये ये ऐप्स इस्तेमाल कर रहे है उनकी हर एक बात कम्पनिया अपने पास रखती है इतना ही नहीं, जानकर ये भी बताते है की चीन की हर कंपनी आपकी डाटा चीन के सरकार के साथ साझा भी करते है। चीनी ख़ुफ़िया एजेन्सियों और चीनी सेना इन्ही डाटा का इस्तेमाल कर के देश पर हमला करने की रणनीति तैयार कर सकती है।

कई मामलो में ऐसा हो भी रहा होगा लेकिन क्यूंकि चीन में डेमोक्रेसी नहीं है तो चीनी सरकार इसकी आधिकारिक पुस्टि कभी नहीं करती। मामलो से जुड़े एक दूसरे अधिकारी ने बताया की देश में टिक टोक, हेलो, यूसी ब्राउज़र को इस्तेमाल करनेवाला हरेक व्यक्ति चीनी सरकार के राडार में है। ऐसे में जाने अनजाने में आप जितने भी वीडियो पोस्ट और बात करते है ये साड़ी जानकारिया चीनी सर्वर में स्टोर हो जाती है। हाला की इन ऐप्स को चलाने वाली कम्पनिया इन डाटा को छेड़ छड़ करने से इंकार करती है। लेकिन चीनी सरकार को डाटा शेयर करने वाली बात पर कोई कंपनी बात नहीं करती है।

Leave a Reply