मुकेश अम्बानी का रिलायंस जिओ, नेटफ्लिक्स से हाथ मिलाने जा रही है

भारत में ऑनलाइन कंटेंट का दौर जिस तेजी से बढ़ रहा है उसे देख कर कहा जा सकता है की फ्यूचर इसी का है। दुनिया की मशहूर बिज़नेस मैन मुकेश अम्बानी सम्भाबनाओ के मुताबिक अपना कारोबार बढ़ाने के लिए जाने जाते है। और अब वो इसी को समझते हुए दुनिया में ऑनलाइन कंटेंट में कदम रखने वाले है।

खबरों की माने तो मुकेश अम्बानी ऑनलाइन कंटेंट प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स से करार करने वाले है इस पार्टनर शिप में नेटवर्क 18, नेटफ्लिक्स के लिए प्रोग्राम्स और शो को प्रोडूस करंगें, इस डील के हिसाब से रिलायंस नेटफ्लिक्स के लिए 10 शो प्रोडूस कर सकती है। हाला की अभी डील फाइनल होने की बात सामने नहीं आई है। लेकिन बातचीत का शुरुआती दौर जारी है।

दरअसल पिछले कुछ समय में भारत में हिंदी और छेत्रिये कंटेंट की मांग बढ़ी है कंपनी इसी का फ़ायदा उठाना चाहती है अगर ये डील फाइनल हो जाती है तो इसका मुकाबला अमेज़न और डिज़्नी जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से होगी। नेटफ्लिक्स के दर्सको की संख्या भारत में तेजी से बढ़ रही है। 2018 में कंपनी ने भारत में कम से कम 10 करोड़ सब्सक्रइबर बनाने के लछ्य की बात कही थी। नेटवर्क 18 और नेटफ्लिक्स के बीच करार से दोनों को बड़ा फ़ायदा हो सकता है। इससे नेटफ्लिक्स के सर्विस का दायरा बढ़ेगा। गौर करने वाली बात ये की पिछले ८ सप्ताह के अंदर जिओ प्लेटफार्म को ९ निवेशक मिल गए है।

अमेरिकन इन्वेस्टमेंट फर्म तपग कपटिआल ने शनिवार को जिओ में 454.80 करोड़ का निवेश किया है। वही जिओ में निवेश की बात करे तो सबसे पहले 43573.62 करोड़ में फेसबुक ने 9.99 % का निवेश किया है उसके बात करे सिल्वर लेक की तो इसने 5655.75 करोड़ में 1.15 % का निवेश किया है। मुकेश अम्बानी ने एक प्लेटफार्म के जरिये कहा था डेटा इस योग का नया हथियार है और वो इस तरफ आगे की प्लानिंग कर रहे है।

This Post Has One Comment

Leave a Reply