भारत में बैन होगा टिकटॉक

यूट्यूब और टिकटॉक के बीच पिछले कई दिनों से जंग छिड़ी हुई है जंग इस बात को लेकर है की टिकटॉक और यूट्यूब में बेहतर कौन है। बड़ी बात ये है की गूगल प्ले स्टोर पर टिक टॉक की रेटिंग 4.7 से घट कर 2 पर पहुंच गई है।

हाल ही में यूजर्स ने टिकटॉक को 1 रेटिंग भी दी है। टिकटॉक को अब तक 24 मिलियन यूजर्स रेटिंग कर चुके है इनमे से काफी यूजर्स ने टिकटॉक को सिर्फ 1 रेटिंग दी है। जिसके कारन इस ऐप की रेटिंग में भारी गिराबट दर्ज की गई है। और रेटिंग सिर्फ 2 रह गई है। वही टिकटॉक के लाइट वर्जन को लगभग 7 लाख लोग ने रेटिंग दी है जिसकी रेटिंग सिर्फ 1.1 है। जबकि यूट्यूब को लगभग 70 मिलियन लोगों ने रेटिंग दी है।

सोशल मीडिया पर कई लोग भारत में टिकटॉक को बैन करने की मांग कर रहे है, इसकी कड़ी में ट्विटर पर टिकटॉक बैन हैस टैग, ट्रेंड कर रहा है। दरअसल टिकटॉक कंटेंट क्रिएटर फैजल सिद्धकी का वीडियो वाइरल होने के बाद लोग इसे बैन करने की मांग कर रहे है। फैजल सिद्धकी के अकाउंट से एक वीडियो वाइरल हुआ है जिसमे एसिड अटैक का समर्थन करने वाला बताया गया है।

राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी टिकटॉक और फैजल सिद्धकी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है फैजल सिद्धकी की वीडियो में महिला विरोधी वीडियो के कारन भी टिकटॉक को बैन करने की मांग की जा रही है यही वजह है की यूजर्स टिकटॉक की रेटिंग को गिरा रहे है। पिछले कुछ दिनों से यूट्यूब और टिकटॉक के फैंस के बीच खींच तान चल रही है। यूट्यूब यूजर्स टिकटॉक के फैंस का मजाक बनाते है और टिकटॉक यूजर्स यूट्यूब के कंटेंट क्रिएटर्स का मजाक बनाते है नतीजा ये हो रहा है की अभी टिकटॉक और यूट्यूब का बोलबाला चल रहा है।

This Post Has One Comment

Leave a Reply