Mon. Sep 23rd, 2019

Esabnews.com

Only For You

जबरजस्ती शादी कर के मुझे फसाया गया है। तेज प्रताप यादव

1 min read

Photo By Google

जबरजस्ती शादी कर के मुझे फसाया गया है। ये कहना है लालू के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव का 

शुक्रवार की शाम को तेज प्रताप के कोर्ट में तलाक़ की अर्ज़ी दायर करने की खबर आते ही ऐश्वर्या राय अपने परिवार समेत राबड़ी देवी से मिलने पहुंचीं. शाम तक ऐसी ख़बरें भी मिलीं कि तलाक की अर्ज़ी देने के बाद तेज प्रताप पिता लालू प्रसाद यादव से मिलने के लिए रांची निकल गए हैं. लेकिन जैसे ही ऐश्वर्या अपने पिता चंद्रिका राय और मां पूर्णिमा राय के साथ लालू आवास पर पहुंची, तभी दूसरी ख़बर आई कि तेज प्रताप रांची के रास्ते से लौट रहे हैं.

देर रात तक लालू आवास के बाहर चल रही बातों के मुताबिक़ दोनों परिवारों की ओर से सुलह की कोशिशें तेज हो गई हैं. राबड़ी देवी ऐश्वर्या और उनके घरवालों से बात कर रही हैं.  हालांकि, दोनों परिवारों की ओर से अभी तक इसे लेकर कोई बयान नहीं जारी किया गया है.

चर्चाओं का बाज़ार गर्म

बिहार के सबसे बड़े राजनीतिक परिवार से अचानक आई इस ख़बर के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है. लालू परिवार से इसे लेकर अभी तक कोई बयान जारी नहीं हुआ है. उधर पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा राय की पौत्री ऐश्वर्या के परिवार ने भी मीडिया से दूरी बना रखी है.

शुक्रवार की देर शाम मीडिया में ख़बर आने के बाद ऐश्वर्या के पिता पूर्व मंत्री चंद्रिका राय बेटी और पत्नी के साथ 5 सर्कुलर रोड स्थित लालू आवास पर तेज प्रताप की मां पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से मिलने पहुंचे.

तेज प्रताप यादव के छोटे भाई और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भी घर पर ही मौजूद थे, जबकि चारा घोटाले के एक मामले में सजायाफ़्ता लालू प्रसाद यादव रांची के रिम्स में अपना इलाज करा रहे हैं.

पांच महीने में तलाक़ क्यों?

इसी साल 12 मई को तेज प्रताप यादव की शादी ऐश्वर्या राय से हुई थी. दो पूर्व मुख्यमंत्रियों के परिवार में बहुत धूमधाम से हुई उस हाई प्रोफ़ाइल शादी में न केवल बिहार, बल्कि देश की कई नामी-गिरामी हस्तियों ने शिरक़त की थी.

शादी के बाद तुरंत ही लालू के घर में कुछ अच्छी चीजें हुई थीं. मसलन रांची के होटवार जेल में चारा घोटाले की सज़ा काट रहे लालू प्रसाद को तीन दिनों के पैरोल के साथ-साथ छह हफ़्तों की प्रोविज़नल बेल मिली थी. राबड़ी देवी के बिहार विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष बनने का रास्ता साफ़ हुआ था.

शादी के दो दिनों बाद ही 14 मई को हिन्दुस्तान टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार राबड़ी देवी ने संवाददाताओं के सवाल पर कहा था, “हमारी बहू लछमिनिया (अच्छे लक्षण वाली है) है. उसके आने से घर में कई खुशियां आई हैं.उन्हीं दिनों तेज प्रताप यादव ने सोशल मीडिया पर पत्नी ऐश्वर्या राय के साथ एक तस्वीर डाली थी जो काफ़ी वायरल भी हुई. साइकिल पर ऐश्वर्या को आगे बिठाए दिख रहे तेज प्रताप यादव ने तस्वीर के कैप्शन में पत्नी के लिए प्रेम का इज़हार किया था.

लेकिन तेज प्रताप यादव के तलाक की अर्ज़ी दाखिल करने की ख़बर मीडिया में आने के बाद लोग इसे लेकर तमाम तरह के क़यास लगा रहे हैं. छोटे भाई और विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के साथ अनबन और परिवार में खींचतान की खबरें पहले से आती रही हैं.

इन सबके बीच तेज प्रताप द्वारा अचानक उठाए गए इस क़दम ने लालू परिवार के लिए कई सवाल खड़े कर दिए हैं.

तेज प्रताप यादव, ऐश्वर्या राय

तेज प्रताप और ऐश्वर्या की जोड़ी

12 मई को पटना के वेटरनरी कॉलेज ग्राउंड में शादी के लिए सजे मंच पर एक तरफ़ बिहार में सबसे लंबे वक्त तक शासन करने वाले परिवार का सबसे बड़ा बेटा था, तो दूसरी तरफ़ पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा राय की पौत्री और बिहार सरकार के पूर्व मंत्री चंद्रिका राय की लाडली बिटिया ऐश्वर्या थीं.

वर-वधू ने एक दूसरे के गले में न सिर्फ़ वरमाला डाली थी, बल्कि इस शादी में बिहार की सियासत के दो कुनबों का मेल भी हुआ था. लेकिन ये तो तेज प्रताप और ऐश्वर्या की राजनीतिक और पारिवारिक पहचान भर है. 2015 के विधानसभा चुनाव के हलफ़नामे के मुताबिक तेज प्रताप ने बारहवीं तक की पढ़ाई की है.

जबकि ऐश्वर्या राय ने पटना के नॉट्रेडैम एकेडमी से बारहवीं तक की पढ़ाई करने के बाद दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक किया है. उन्होंने एमिटी यूनिवर्सिटी से मास्टर्स की डिग्री भी हासिल की है. शादी के बाद तेज प्रताप और ऐश्वर्या कभी सार्वजनिक तौर पर सामने नहीं आए, सिवाय साइकल वाली उस इकलौती तस्वीर के. हालांकि, स्थानीय मीडिया में ये ख़बरें ज़रूर उड़ती रहीं कि ऐश्वर्या राय मायके रह रही हैं.

इधर तेज प्रताप यादव के सोशल मीडिया अकाउंट से उस दौरान कई बार ऐसे अपडेट किए गए जिसमें वो पटना से दूर दूसरे राज्यों के धार्मिक स्थानों पर देखे गए. इसमें मथुरा और वृंदावन उनकी पसंदीदा जगहें रही हैं जहां वे एक से ज़्यादा बार भी गए. हाल ही में वो वृंदावन की यात्रा से लौटे हैं. माथे पर त्रिपुंड लगाए, कभी मोरपंख से जड़ा मुकुट पहने कभी सार्वजनिक मंच पर पगड़ी बांध कर बांसुरी बजाने लग जाने वाले तेज प्रताप खु़द को कृष्ण का अनन्य भक्त बताते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *